“सुलसा श्राविका पुरस्कार तथा आनंद श्रावक पुरस्कार “

हमारे मन मंदिर के देवता,आराध्य देव पूज्य गुरुदेव आचार्य भगवंत की दीक्षा जयंति महोत्सव पर अर्हम् विज्जा प्रणेता पू.श्री प्रवीणऋषिजी म.सा. की सत्प्रेरणा से और जिनशासन गौरव पू. श्री सुनंदाजी म.सा. के मार्गदर्शन से इस पुरस्कार का आयोजन किया गया है। ३० साल से अधिक उम्रवाले जिन श्रावक श्राविकाओं ने २०२१ से प्रारंभ करके विधिसहित प्रतिक्रमण कंठस्थ किया है उन श्रावकों को आनंद श्रावक पुरस्कार एवंं श्राविकाओं को सुलसा श्राविका पुरस्कार से पुरस्कृत किया जायेगा।

रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख :

२० नवंबर २०२३

परीक्षा की तारीख : 

२३ नवंबर २०२३ से

जानकारी के लिए संपर्क करे :

सूचना :

परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद ही व्हाट्सएप ग्रुप में आपको जोड़ा जायेगा।
उससे पहले कोई व्हाट्सएप ग्रुप नही बनेगा
परीक्षा के समय आपसे सीधा संपर्क किया जाएगा।

Register Now